Ayurveda Aur Mahayogi

  • आयुर्वेद और महायोगी                                                      आयुर्वेदाचार्य महायोगी  सृष्टि में स्थित सनातन तत्वों, पदार्थों, बनस्पतियों व पंचतत्वों आदि के गुणों का रोग नाश एवं मानसिक बौधिक वैचारिक स्वास्थ्य लाभ के लिए व आयु बृद्धि के लिए शास्त्र सम्मत विधि का प्रयोग ही किसी को आयुर्वेदाचार्य बना सकता है, कौलान्तक पीठाधीश्वर महायोगी सत्येन्द्र नाथ जी महाराज ने ग ...
    Posted Sep 28, 2011, 3:56 AM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Tantra Aur Mahayogi

  • तन्त्र और महायोगी                                                             तंत्रेश्वर महायोगीतंत्र का नाम लेते ही डर लगने लगता है, ठीक वैसे ही जैसे अँधेरे में कहीं सुनसान जगह से गुजर रहे हों तो हर पत्थर पेड़ और झाड़ी से भी डर लगता कि मानो वो हमें मार ही डालेगी, आज तंत्र की हालत भी कुछ ऐसी ही हो गई है, आपने तंत्र कहा और अंकों के सामने श्मशान, बलि,मदिरा और जादू-टोना घूमने लगता है, जबकि तंत्र का एक साफ सुथरा चेहरा भ ...
    Posted Jun 13, 2013, 7:47 AM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Yantra Aur Mahayogi

  • यन्त्र और महायोगी                                                         यंत्रेश्वर महायोगी अध्यात्म की गूढता का द्योतक है यन्त्र विद्या, यन्त्र केवल आकृति भर ही नहीं होता, बल्कि यन्त्र तो स्वयं में ही देवता होता है, यन्त्र विद्या गूढ़ विद्या है और उतनी ही सिद्ध विद्या भी, कौलान्तक पीठाधीश्वर महायोगी सत्येन्द्र नाथ जी महाराज कहते हैं कि "अंक महाविद्याओं और ब्रहमांड में निहित समय के प्रत ...
    Posted Jun 14, 2011, 9:15 AM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Mahayogi Ka Parichay

  • Introduction to Mahayogiji(English) संक्षिप्त परिचय(Hindi)  श्री गुरु स्तवन गुरुर्ब्रह्मा गुरुर्विष्णुः गुरुर्देवो महेश्वरः | गुरुर्साक्षात परब्रह्म तस्मै श्री गुरवे नमः || ध्यानमूलं गुरुर्मूर्ति पूजामूलं गुरोः पदम् | मंत्रमूलं गुरोर्वाक्यं मोक्षमूलं गुरोः कृपा || अखंडमंडलाकारं व्याप्तं येन चराचरम् | तत्पदं दर्शितं येन तस्मै श्री गुरवे नमः || ब्रह्मानंदं परम सुखदं केवलं ज्ञानमूर्त ...
    Posted Nov 12, 2012, 6:30 AM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Yog Aur Mahayogi

  • योग और महायोगी                          योग और महायोगीकौलान्तक पीठाधीश्वर महायोगी सत्येन्द्र नाथ की अद्भुत साधनों को देख कर कोई भी आश्चर्यचकित रह जाएगा, बाल्यकाल से ही हिमालयों के शिखरों पर उनका महासाम्राज्य रहा, किसी हिम तेंदुए की तरह महायोगी किसी भी पर्वत पर आने जाने में बहुत ही सहज थे, बनों बनों घूमना कोई सरल कार्य नहीं, किन्तु महायोगी जंगली जानबरों की परवाह किये ब ...
    Posted Jun 12, 2011, 6:58 AM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Jyotish Aur Mahayogi

  • ज्योतिष और महायोगी                                                                         कालयोगीकौलान्तक पीठाधीश्वर जिन्होंने अपने जीवन में 24 वर्ष की आयु तक चार बार समय चक्र पूजन किया है और काल के रहस्यों को समझा है, तीनों काल और उसकी कलाओं सहित मूल को समझा है, समय और समयातीत को समझा, योग से दिव्य चक्षु ले कर ब्रहमांड के रहस्य सार को समझा, समाधी से उत्तम भविष्य में जाने का कोई दूसरा उपाय नहीं है, किन्तु साधारण जीवन को प्रक ...
    Posted Jun 14, 2011, 5:55 PM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Mahayogi Satyendar Nath Ji Maharaj

Mantra Aur Mahayogi

  • मंत्र और महायोगी                                                       मंत्र पुरुष महायोगी भारतीय ऋषि परम्परा या कहें धर्म परंपरा बिना मन्त्रों के अधूरी ही है, हिन्दू धर्म का अस्तित्व मन्त्रों के अस्तित्व बिना खाली-खाली प्रतीत होता है, शब्द को ब्रह्म की संज्ञा दी गयी है और योग नें कुण्डलिनी नाद को या नाद ब्रह्म को प्रदर्शित करने व उससे जुड़ने के लिए ध्वनि अर्थात मंत्र बीज की महिमा स्थ ...
    Posted Jun 14, 2011, 5:51 PM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »






































































 



  















Brahamanad Chakra Nayak Mahayogi


Goodh Lipiyan Aur Mahayogi

  • गूढ़ लिपि और महायोगी                                                          दिव्य लिपि नायक निगूढ़ विद्या व महारहस्यों को समझने के लिए दिव्य लिपियों का ज्ञान होना बहुत ही आवश्यक है, बहुत सी गूढ़तम जानकारियां विशेष लिपियों में लिख कर राखी जाती हैं, कौलान्तक पीत्र्हधीश्वर महायोगी सत्येन्द्र नाथ जी महाराज कहते है, कि ब्रहमाण्ड विद्या सहित गुप्त कुल की विद्याओं को केवल एक उच्च धरातल पर ...
    Posted Jun 14, 2011, 11:15 PM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Pandulipiyan Aur Mahayogi

  • पाण्डुलिपि ज्ञाता महायोगी पाण्डुलिपि विद्वान प्राचीन लेखों को पाण्डुलिपि कहा जाता है, ये लेख पत्थरों पर, धातुओं पर, चमड़े पर, भोजपत्र पर या फिर कागज़ पर हो सकते हैं, पांडुलिपियों में कोई भी जानकारी पूरवजों द्वारा लिखी गयी होती है, उदहारण के लिए हिमाचल में टाँकरी पाण्डुलिपि बहुत सरलता से मिल जाती है, जिनको साधारनतया पढ़ना बहुत ही कठिन कार्य होता है, क्योंकि य ...
    Posted Jun 14, 2011, 11:56 PM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Sammohan Aur Mahayogi

  • सम्मोहन और महायोगी                                                      सम्मोहक महायोगी सम्मोहन एक दिव्य और रहस्यमय कला है, सम्मोहन के अलग-अलग स्तर होते हैं, वास्तव में सम्मोहन काला जादू नाम की विद्या का ही एक हिस्सा है, काला जादू तंत्र शास्त्र का वो भाग होता है, जिसमें बिना मंत्र यन्त्र और औषधि आदि के मनोवांछित चमत्कार पैदा किया जा सकता है, वास्तव में तंत्र की मोहिनी विद्या का क्रिया पक्ष ह ...
    Posted Jun 18, 2011, 5:27 AM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Chamatkaar Aur Mahayogi

  • चमत्कार और महायोगी                                                  कौतुक विद्यापति चमत्कार की दो श्रृंखलाएं हैं, एक तो कौतुक विद्या जिसका सीधा सा अर्थ है बाजीगरी या जादूगरी,जिसके पीछे यंत्र, व्यवस्था, औषधि, रसायन, विशेष उपकरण व प्रस्तुति का सहारा लिया जाता है और जनता को अथवा दर्शक को विस्मृत किया जा सकता है, किन्तु ये एक कला है जिसका उद्देश्य मनोरंजन करना ही है और दूसरी श्रृंखला में दैविक चमत्कार आते ह ...
    Posted Jun 23, 2011, 12:08 PM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Surya Yog Aur Mahayogi

  • सूर्य योग और महायोगी एक योगी की कुशलता का पता इस बात से ही चल जाता है की वो एक सूर्य योगी हो गया है. वो सूर्य से उर्जा पाता है. अपनी आध्यात्मिक शक्तियों के जागरण में भी सूर्य की उर्जा का प्रयोग करता है. सूर्य से तेज प्राप्त कर कुण्डलिनी जागरण की अनेकों क्रियाओं को संचालित किया जाता है. बिना सूर्य योग के कोई भला वनस्पति रहित हिमालय में कैसे रह ...
    Posted Sep 28, 2011, 4:37 AM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Karmkaanad Aur Mahayogi

  • कर्मकाण्ड और महायोगी                                                           कर्मकाण्ड आचार्यभारत की आध्यात्मिक संस्कृति इतनी विविधता लिए हुए है कि इसे समझना बड़ा ही जटिल है, इसका एक प्रमुख भाग है "कर्मकाण्ड", कर्मकाण्ड ईश्वर की आराधना की पूर्णतया भौतिक भक्ति प्रधान प्रणाली है, इस प्रणाली को कर्मठगुरु जैसे ग्रन्थ नें एक रूपता देने की कोशिश की है, किन्तु फिर भी कर्मकाण्ड ही सबसे ज्यादा भिन्नता लिए हुए ...
    Posted Jun 18, 2011, 7:31 AM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Yuddh Vidya Aur Mahayogi

  • युद्ध विद्या और महायोगी                                               वीर योद्धा महायोगी शास्त्र विद्या तब तक पूर्ण नहीं होती जब तक कि शस्त्र विद्या और युद्ध कौशल नहीं सीख लिया जाता, कौलान्तक पीठ सबसे प्राचीन युद्ध कला "वनशिरा युद्ध कला" के लिए विश्व प्रसिद्द है, जिसमें शस्त्र के तौर पर "ग़ज युद्ध" "तलवार युद्ध" "शांगल युद्ध" "कुल्हाड़ी अथवा दरात युद्ध"  देखते ही बनता है, कौलान्तक ...
    Posted Jun 23, 2011, 10:03 AM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Chamatkaar Aur Mahayogi

  • चमत्कार और महायोगी                                                  कौतुक विद्यापति चमत्कार की दो श्रृंखलाएं हैं, एक तो कौतुक विद्या जिसका सीधा सा अर्थ है बाजीगरी या जादूगरी,जिसके पीछे यंत्र, व्यवस्था, औषधि, रसायन, विशेष उपकरण व प्रस्तुति का सहारा लिया जाता है और जनता को अथवा दर्शक को विस्मृत किया जा सकता है, किन्तु ये एक कला है जिसका उद्देश्य मनोरंजन करना ही है और दूसरी श्रृंखला में दैविक चमत्कार आते ह ...
    Posted Jun 23, 2011, 12:08 PM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Lalit kalaa Naritya Aur Mahayogi

  • ललित कला नृत्य और महायोगी                                           रागेश्वर कृतिकार नटराजजीवन बहुत छोटा है उसमें भी बचपन वो समय होता है जिसके बीत जाने का एहसास ही नहीं हो पाता, किन्तु महापुरुष बाल्यकाल का शायद सबसे ज्यादा उपयोग ज्ञान अर्जन के लिए करते हैं, कौलान्तक पीठाधीश्वर महायोगी सत्येन्द्र नाथ जी महाराज नें बाल्यकाल से ही ललित कलाओं का ज्ञान बड़े धैर्य के साथ ग्रहण किया है, च ...
    Posted Jun 23, 2011, 12:12 PM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Rahasya Aur Mahayogi

  • रहस्य और महायोगी                                                    रहस्य पीठाधीश्वर जीवन में सब कुछ रहस्य ही है, हम किस माता पिता के घर जन्मेंगे नहीं जानते थे, आगे कहाँ जन्म लेंगे नहीं पता, क्यों जी रहे हैं? क्यों मर जायेंगे? ये सब एक रहस्य है? कोई कहता है पुनर्जन्म नहीं होता, कोई कहता है कि भगवान भी नहीं? कोई तो आत्मा तक को नकार देता है? किसी-किसी का बड़ा ही स्थूल चिंतन है, तो कोई सारी उम्र परमात्म पथ की खोज में बित ...
    Posted Jun 23, 2011, 11:06 AM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »

Chamatkaar Aur Mahayogi

  • चमत्कार और महायोगी                                                  कौतुक विद्यापति चमत्कार की दो श्रृंखलाएं हैं, एक तो कौतुक विद्या जिसका सीधा सा अर्थ है बाजीगरी या जादूगरी,जिसके पीछे यंत्र, व्यवस्था, औषधि, रसायन, विशेष उपकरण व प्रस्तुति का सहारा लिया जाता है और जनता को अथवा दर्शक को विस्मृत किया जा सकता है, किन्तु ये एक कला है जिसका उद्देश्य मनोरंजन करना ही है और दूसरी श्रृंखला में दैविक चमत्कार आते ह ...
    Posted Jun 23, 2011, 12:08 PM by Site Designer
Showing posts 1 - 1 of 1. View more »
                                                                                               Page-under construction

e-mail: kaulantakpeeth@gmail.com